latest news

किस बात का मलाल रहा सोमनाथ चटर्जी को अपने जीवन में

latest news

सोमनाथ चटर्जी एक कम्युनिस्ट नेता के साथ साथ एक वकील भी थे। बहुत कम लोग यह जानते हैं की उनके पिता निर्मल चंद्र चटर्जी हिन्दू महा सभा के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। ये बहुत ही आश्चर्य चकित करने वाली बात थी की सोमनाथ चटर्जी ने एक अलग कम्मुनिस्ट राह चुनी।

सोमनाथ चटर्जी UPA सरकार के कार्यकाल में स्पीकर के पद पर रहे। उन्हें एक बात का मलाल हमेशा रहा की स्पीकर पद पर आने के बाद उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा नहीं दिया। उन्होंने न्युक्लियर डील के दौरान अपनी पार्टी का साथ नहीं दिया जिसके कारण उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया। उस पार्टी से जिसे उन्होंने सिर्फ सींचा ही नहीं बल्कि जिया भी था। ये उनके लिए एक खून का घूंठ पीकर अपमानित होने जैसा था।

यदि आपको उपरोक्त दी गई जानकारी अथवा यह ये लेख अच्छा लगा हो तो कृपया कर के हमारे ब्लॉग को लाइक, फॉलो और सब्सक्राइब जरूर करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख, जानकारियां और खबरें मिलती रहे। अगर आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट कर के हम से जरूर पूछें।

नोट: उपरोक्त सिफारिशों और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। आप स्वयं पर प्रयोग करने से पहले एक पंजीकृत अथवा प्रमाणित ट्रेनर या अन्य किसी पेशेवर से परामर्श कर सलाह लीजिये

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + six =