अधिकतर गर्मियों के मौसम में हर एक व्यक्ति पिंपल्स से परेशान जरूर होता है। भले ही कोई व्यक्ति अपने स्किन का कितना है खयाल क्यों ना रखें गर्मियों के मौसम में पिंपल्स की समस्या घेर ही लेती है। आइए जानते हैं क्यों होता है ऐसा इसका कारण साथ ही इसका इलाज।

गर्मियों के मौसम में सभी को अत्यधिक मात्रा में पसीना आता है जिसके कारण चेहरे पर बहुत सारी गंदगी इकट्ठा हो जाती है। कभी आप बाहर जाते हैं या भले ही आप घर पर ही क्यों ना हो हर थोड़ी देर में अपने चेहरे को साफ करना किसी के लिए भी मुमकिन नहीं हो पाता। हम पसीना यूं ही पोछ लेते हैं। साथ ही हमारे चेहरे के स्किन को ड्राई होने से बचाने के लिए शरीर अपने आप ही ऑयल को प्रड्यूस करने लगता है जिसके कारण चेहरा बहुत ही ज्यादा ऑइली भी हो जाता है। इसी ऑइली चेहरे पर अधिकतर धूल और कई प्रकार के कीटाणु इकट्ठा होते रहते हैं जिस वजह से हमारे चेहरे पर गर्मियों के मौसम में अधिकतर पिंपल्स हो जाते हैं।

पिंपल्स हमारे चेहरे पर अधिक ना हो जाएं इसके लिए हमें ज्यादा से ज्यादा अपने चेहरे को साफ रखने की जरूरत है जिससे कि हमारे चेहरे पर ऑयल और धूल मिट्टी ना टिक पाए। इसके अलावा गर्मियों के मौसम में ज्यादा से ज्यादा नीम के प्रोडक्ट का प्रयोग करना चाहिए है। चाहे नीम का साबुन हो या नीम का फेस वॉश। हमें ध्यान रखना है कि हम अपने चेहरे को साफ रखने के लिए नीम से बनी हुई चीजों का प्रयोग अधिक करें। क्योंकि नीम में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं जिसके कारण हमारे पिंपल्स और एक्ने की समस्या का समाधान होता है। नीम के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से हमारे चेहरे पर जो भी कीटाणु या फंगल इनफेक्शन होगा वह अच्छी तरह से साफ हो जाएगा।

यदि आपको उपरोक्त दी गई जानकारी अथवा यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया कर के हमारे चैनल (#ekaansh) को फॉलो / सब्सक्राइब जरूर करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख, जानकारियां और खबरें सबसे पहले मिलती रहे। साथ ही अपनी पसंद की न्यूज़ को लाइक और शेयर भी जरूर करें जिससे दूसरे लोग भी इसका लाभ उठा पाएं। अगर आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट कर के हम से जरूर पूछें।

नोट: उपरोक्त दी गईं जानकारियाँ, सिफारिशें और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। यदि आप स्वयं पर इसका प्रयोग करना चाहते हैं तो पहले एक पंजीकृत या प्रमाणित पेशेवर या ट्रेनर से परामर्श जरूर कर लें। उसके उपरान्त ही इस सलाह पर अमल कीजिये।

जाने क्यों होते हैं गर्मियों के मौसम में अधिक पिंपल्स – कारण और इलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven − 7 =