इस साल 21 जून 2020 को साल का पहला पूर्ण सूर्यग्रहण पड़ रहा है। इस दौरान वैसे तो बहुत सारी सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। परन्तु गर्भवती महिलाओं को इस दौरान ख़ास सावधानियां बरतनी चाहिए। आज हम आपको ऐसी ही कुछ बातों के बारे में बता रहें है जिन्हे अपनाकर आप आसानी से ग्रहण की हानि से बच सकते हैं।

ग्रहण के दौरान कॉस्मिक तरंगे निकलती है जो की गर्भवती स्त्री और उसके अजन्मे बच्चे को नुक्सान पहुंचा सकती हैं। ग्रहण के दौरान गर्भवती स्त्री को अपने घर में ही रहना चाहिए। साथ ही इस बात की पुष्टि कर लें की घर या कमरे में उस दौरान कोई खिड़की या झरोखे से रौशनी अंदर ना आये।

इसके अलावा अगर संभव हो तो ग्रहण समाप्त हो जाने के बाद स्नान भी कर लें। तथा इस दौरान अगर हो सके तो भोजन करने या पानी पीने से बचें। अगर बहुत जरूरी हो तो तुलसी पत्ती डाला हुआ पानी पिएं। अगर कुछ खाना भी हो तो उसमे तुलसी पत्ती पहले से ही मिला लें। साथ ही ग्रहण की समाप्ति के उपरान्त शुद्ध भोजन करना चाहिए।

ग्रहण के दौरान किसी भी खाने की तैयारी आदि न करें। न ही कोई सब्जी इत्यादि काटें। ग्रहण की समाप्ति के बाद घर में रखा पका हुआ भोजन हटा दें। वैसे तो शास्त्रों में गर्भवती स्त्रियों को नियमो से बाध्य नहीं किया गया है, परन्तु सावधानी बरतने की सलाह जरूर दी गयी है।

यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो कृपया मुझे फॉलो करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख और खबरें तथा जानकारी मिलती रहे।

नोट: उपरोक्त सिफारिशों और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। अपने आप पर प्रयोग करने से पहले एक पंजीकृत प्रमाणित ट्रेनर या अन्य पेशेवर से परामर्श कर सलाह लीजिये।

सूर्यग्रहण 2020: गर्भवती महिलाएं बरतें ग्रहण के दौरान ये ख़ास सावधानियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + 19 =