latest news

देहरादून गैंगरेप: स्टाफ की मुखबिरी के कारण खुला मामला

latest news

देहरादून के नामी गिरामी जी आर डी वर्ल्ड स्कूल में विगत 14 अगस्त को जब स्कूल में स्वतंत्रता दिवस की तैयारियां चल रही थी तब छात्रा के साथ उसी स्कूल के 10वीं और 12वीं के 4 छात्रों ने स्कूल कैंपस के अंदर ही बारी बारी से बलात्कार किया। छात्रा दिल्ली की रहने वाली बतायी जा रही है। उसकी एक और बहन इसी स्कूल में पढ़ती है। जबकि आरोपी छात्र रसूक वाले घरों से ताल्लुक रखते हैं।

देहरादून का गैंगरेप काण्ड कभी भी सामने नहीं आ पाता अगर स्कूल के ही एक स्टाफ द्वारा मुखबिरी ना की गयी होती। सूत्रों से पता चला है की जब स्कूल प्रबंधन के लोग छात्रा को डॉक्टर के यहाँ से दिखाने गए थे तब किसी बोर्डिंग स्कूल के स्टाफ ने इसकी जानकारी पुलिस और छात्रा के घरवालों को दे दी।

इस पूरे मामले में स्कूल प्रबंधन की भूमिका संदिघ्द मानी जा रही है। स्कूल प्रबंधन छात्रों के रसूक के आगे बहुत बौना साबित हुआ। उन्होंने छात्रा का साथ देने की बजाये उसे ही डराते धमकाते रहे। यहां तक की उसे एबॉर्शन भी कराने के लिए बाध्य किया।

प्रबंधन के लोग छात्र को डॉक्टर को दिखाने भी लेकर गए। जैसे ही प्रबंधन के लोग वापस स्कूल पहुंचे तो पुलिस वहां उनका पहले से ही इंतज़ार कर रही थी। महिला पुलिस तुरंत छात्रा को अपने साथ ले गयी और छात्रा से सारी आपबीती जानी। पुलिस ने भी त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी स्कूल प्रबंधन के लोगों के साथ चारों में से एक बालिग़ आरोपी को भी हिरासत में ले लिया है। जहाँ उन्हें कोर्ट में पेश किया गया और जेल भिजवा दिया गया है। अन्य छात्रों को सुधार गृह भेजा गया है। एक और आरोपी अब बालिग़ हो चुका है लेकिन वारदात वाले दिन उसकी उम्र बालिग़ होने से 2 दिन कम थी।

इसके अलावा आपको यह भी बता दें की पूरे स्कूल में एक भी CCTV कैमरा नहीं है। जो की सीबीएसई के नियमो के खिलाफ है। इस से एक बात और उजागर होती है की किस तरह से भ्रष्टचार हमारे सिस्टम में घुस चुका है क्यूंकि स्कूल का अफिलिएशन सीबीएसई द्वारा है। यह तभी मिलता है या renue होता है जब स्कूल सारे नियम पूरे करता है। ऐसे में एक जांच तो सीबीएसई के उन अधिकारीयों के खिलाफ भी होनी चाहिए जो रिश्वत लेकर ऐसे स्कूलों को अपनी मनमानी करने देते हैं।

आपका क्या कहना है इस मामले को लेकर। क्या पीड़ित छात्रा को इन्साफ मिलेगा या यह मामला भी रसूक वाले लोगों का हमारे सिस्टम पर तमाचा ही साबित होगा। अपनी राय कमेंट कर के हमे बतायें।

यदि आपको उपरोक्त दी गई जानकारी अथवा यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया कर के हमारे चैनल (#ekaansh) को फॉलो / सब्सक्राइब जरूर करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख, जानकारियां और खबरें सबसे पहले मिलती रहे। साथ ही अपनी पसंद की न्यूज़ को लाइक और शेयर भी जरूर करें जिससे दूसरे लोग भी इसका लाभ उठा पाएं। अगर आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट कर के हम से जरूर पूछें।

नोट: उपरोक्त दी गईं जानकारियाँ,  सिफारिशें और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। यदि आप स्वयं पर इसका प्रयोग करना चाहते हैं तो पहले एक पंजीकृत या प्रमाणित पेशेवर या ट्रेनर से परामर्श जरूर कर लें। उसके उपरान्त ही इस सलाह पर अमल कीजिये।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen − 6 =