जानिए जल महल का इतिहास

जयपुर के मालसागर झील के बीचोबीच बसा है एक भव्य महल जिसे हम सभी जल महल के नाम से जानते है। ये महल लगभग 300 साल पुराना है। इस महल का निर्माण आमेर के राजा ने 1799 में कराया था।  15वी शताब्दी में आकाल पड़ने के बाद राजा ने इसका निर्माण करवाया था। पहाड़ो से आ रहे पानी को इक्कठा करने के लिए राजा ने एक बाँध को बनवाया था। बाद में राजा नाव पर बैठ कर इस झील में विचरण करने आया करते थे।
इस झील  के पानी से जो सुकून और शान्ति उन्हें मिलती थी वो उसे हमेशा के लिए पाना चाहते थे। तभी राजा ने ये तय किया की अश्वमेघ यज्ञ के बाद वो इस झील के बीचोबीच बने एक महल में रहेंगे। इस तरह से महल का निर्माण हुआ था।  ये महल पांच मंजिला है और इसकी भव्यता देखते ही बनती है । इस महल की चार मंजिले पानी के अंदर है और सिर्फ एक ही मंजिल पानी के ऊपर दिखती है । 

यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो कृपया मुझे फॉलो करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख और खबरें तथा जानकारी मिलती रहे।
नोट: उपरोक्त सिफारिशों और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। अपने आप पर प्रयोग करने से पहले एक पंजीकृत प्रमाणित ट्रेनर या अन्य पेशेवर से परामर्श कर सलाह लीजिये

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + 12 =