independence day, #independenceday, swtantrata diwas, आज़ादी का अमृत महोत्सव, #aazadikaamritmahotsav, #ekaansh #ekaanshastro
Image Source: Google Search

आज़ादी का अमृत महोत्सव(#aazadikaamritmahotsav): क्या आप जानते हैं कि हम भारतीय जो जन गण मन अथवा राष्ट्रगान या National Anthem गाते हैं वो संक्षिप्त है। दरअसल भारत में जो राष्ट्रगान गया जाता हैं वो रबीन्द्रनाथ टैगोर की रचना में से केवल प्रथम पद है। सम्पूर्ण राष्ट्रगान की अवधि 4 मिनट्स 54 सेकण्ड्स की है।

इतना लम्बा राष्ट्रगान न रखने के कारण उनकी रचना का केवल प्रथम पद ही लिया गया है। जिस के गायन की अवधि 52 सेकण्ड्स की है। इसके अलावा आप ये नहीं जानते होंगे की कुछ विशेष मौकों पर इससे भी छोटी अवधि का राष्ट्रगान गाया जाता है जिसकी अवधि केवल 20 सेकंड्स की होती है।

हम आपको सम्पूर्ण राष्ट्रगान वाली रचना भी इस लेख के द्वारा साझा कर रहे हैं। उम्मीद हैं की आपको ये पसंद आएगी। जय हिन्द।

जनगणमन-अधिनायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
पंजाब सिन्धु गुजरात मराठा द्राविड़ उत्कल बंग
विन्ध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्छलजलधितरंग
तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशिष मागे,
गाहे तव जयगाथा।
जनगणमंगलदायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

अहरह तव आह्वान प्रचारित, शुनि तव उदार बाणी
हिन्दु बौद्ध शिख जैन पारसिक मुसलमान खृष्टानी
पूरब पश्चिम आसे तव सिंहासन-पाशे
प्रेमहार हय गाँथा।
जनगण-ऐक्य-विधायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

पतन-अभ्युदय-वन्धुर पन्था, युग युग धावित यात्री।
हे चिरसारथि, तव रथचक्रे मुखरित पथ दिनरात्रि।
दारुण विप्लव-माझे तव शंखध्वनि बाजे
संकटदुःखत्राता।
जनगणपथपरिचायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

घोरतिमिरघन निविड़ निशीथे पीड़ित मूर्छित देशे
जाग्रत छिल तव अविचल मंगल नतनयने अनिमेषे।
दुःस्वप्ने आतंके रक्षा करिले अंके
स्नेहमयी तुमि माता।
जनगणदुःखत्रायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

रात्रि प्रभातिल, उदिल रविच्छवि पूर्व-उदयगिरिभाले –
गाहे विहंगम, पुण्य समीरण नवजीवनरस ढाले।
तव करुणारुणरागे निद्रित भारत जागे
तव चरणे नत माथा।
जय जय जय हे जय राजेश्वर भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

हम अपने चैनल एकांश के माध्यम से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस (#independeceday2021) की शुभकामनाएं देते हैं। यदि आपको उपरोक्त दी गई जानकारी अथवा यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया कर के हमारे चैनल (#ekaansh) को फॉलो / सब्सक्राइब जरूर करें ताकि आपको इसी प्रकार के लेख, जानकारियां और खबरें सबसे पहले मिलती रहे। साथ ही अपनी पसंद की न्यूज़ को लाइक और शेयर भी जरूर करें जिससे दूसरे लोग भी इसका लाभ उठा पाएं। अगर आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट कर के हम से जरूर पूछें।

नोट: उपरोक्त दी गईं जानकारियाँ, सिफारिशें और सुझाव प्रकृति में सामान्य हैं। यदि आप स्वयं पर इसका प्रयोग करना चाहते हैं तो पहले एक पंजीकृत या प्रमाणित पेशेवर या ट्रेनर से परामर्श जरूर कर लें। उसके उपरान्त ही इस सलाह पर अमल कीजिये।

आज़ादी का अमृत महोत्सव(#aazadikaamritmahotsav): राष्ट्रगान से जुड़ी इस बात को 99% भारतीय नहीं जानते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − seventeen =

error: Content is protected !!